रोजाना 50 ग्राम भुने हुए चने खाने से मिलेगे लाभ जानिए कैसे

Jitendra
4 Min Read

रोजाना 50 ग्राम भुने हुए चने खाने से मिलेगे लाभ जानिए कैसे, भुने हुए चने तो आपने खाये ही होंगे. अगर आप भुने हुए चनों को खाना पसंद करते हैं तो इन्हें रोजाना खाना शुरू कर दीजिए. आपको भी चने खाने से होने वाले फायदों के बारे में जानकारी न हो.बाजार में भुने हुए चने दो तरह के होते हैं छिलके वाले और बिना छिलके वाले. आपको बिना छिलके वाले चने ही खाने हैं, चने के छिलके भी सेहत के लिए अच्छे होते हैं. भुने हुए चने को यदि सही तरीके से चबा चबाकर खाया जाएं ये शरीर के लिए बहुत ही लाभ कारी है।

भुने हुए चनो को छोटा बादाम भी कहा जाता है. इसमें कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, नमी, कैल्शियम, आयरन और विटामिन भरपूर मात्रा में पाया जाता है. भुने हुए चने खाने के फायदों के बारे में पढ़कर शायद आपके मन में भी यह सवाल उठ रहे होंगे एक स्वस्थ व्यक्ति को रोजाना 50 से 60 ग्राम चनों का सेवन करना चाहिए. मनुष्य की सेहत के लिए कई तरह से फायदे मंद रहता है .

ये भी पढ़े :सफेद बाल नेचुरल तरीके से होंगे काले, रसोई में छुपा है 3 चीजों का राज, आइये जाने इसके घरेलू उपाय

बढ़ती है रोग प्रतिरोधक क्षमता

ooorJbZm

रोज अगर आप नाश्ते में या दोपहर के खाने से पहले 50 ग्राम भुने हुए चने यदि आप खाते हैं तो इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने से आप बहुत से बीमारियों से तो बचते ही हैं, साथ ही इससे आपको मौसम बदलने पर अक्सर होने वाली शारीरिक परेशानियां भी नहीं होती है।

मोटापा घटाए

यदि आप मोटापे की समस्या से परेशान है तो भुने हुए चने खाना आप लिए फायदेमंद होगा ,रोजाना भुने हुए चने खाने से मोटापे की समस्या दूर होती है. इसका सेवन शरीर से अतिरिक्त चर्बी को कम करने में मदद करता है।

ये भी पढ़े : इंद्रलोक की अप्सरा सी खूबसूरत लगती है हार्दिक पांड्या की भाभी, सुंदरता और सादगी देख दिल हार बैठे लोग, देखें तस्वीरें

यूरिन इसंफेक्शन में छुटकारा

भुने हुए चनों के सेवन से यूरिन से जुड़ी बीमारियों से भी आपको लाभ मिलता है. जिनको भी बार-बार पेशाब आने की समस्या हो उन्हें रोजाना गुड़ के साथ चने का सेवन करना चाहिए. आप देखेंगे कि इससे कुछ ही दिन में असर दिखने लगेगा।

कब्ज में राहत

Roasted gram for weight loss

कब्ज की समस्या होती है, उन्हें रोजाना चने खाने से बहुत आराम मिलता है। कब्ज होने पर आप दिनभर आलस महसूस करते हैं और परेशान रहते हैं.

पाचन शक्ति बढ़े

चना पाचन शक्ति को संतुलित और दिमाग को तेज करता है। चने से खून साफ होता है जिससे त्वचा में निखार आता है. चने में फॉस्फोरस होता है और किडनी से नमक की मात्रा को काम करता हैं।

मधुमेह में लाभकारी

भुने हुए चने खाने से मधुमेह रोग में भी लाभ मिलता है. भुने हुए चना ग्लूकोज की मात्रा को कम लेते है जिससे डायबिटीज रोग नियंत्रित हो जाता है. डायबिटीज रोगियों के प्रतिदिन भुना हुआ चना खाने से ब्लड शुगर लेवल बराबर रहता है. इसके अलावा भुने हुए चने को रात में सोते समय चबाकर गर्म दूध पीने से सर्दी खांसी में भी राहत मिलती है।

Share This Article