दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर को भी दिया गया न्योता, 22 जनवरी को रामलला नए बन रहे मंदिर के गर्भगृह में होंगे विराजमान

By Pragya

Published on:

दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर को भी दिया गया न्योता, 22 जनवरी को रामलला नए बन रहे मंदिर के गर्भगृह में होंगे विराजमान

अयोध्या में बन रहे राम मंदिर का 22 जनवरी को उद्घाटन किया जा रहा है। इस दिन रामलला नए बन रहे मंदिर के गर्भगृह में विराजमान होने वाले है। रामलला की मूर्ति का प्राण प्रतिष्ठा किया जा रहा है। इस महोत्सव में शामिल होने के लिए श्री राम मंदिर संस्थान की ओर से आलोक कुमार आज निमंत्रण पत्र लेकर दिल्ली के भव्य अक्षरधाम मंदिर में पहुंचने वाले है।

गुरु महंत स्वामीजी मंदिर प्रतिष्ठा महोत्सव में पधारेंगे

image 735

यह भी पढ़े –हिंदू पंचांग के अनुसार, कब है साल की पहली मासिक शिवरात्रि, इसकी पूजा का शुभ मुहूर्त देखें

विश्वविख्यात बीएपीएस संस्था ने अक्षरधाम दिल्ली सहित विश्व में 1400 से अधिक भव्य मंदिर बनाकर भारतीय सनातन धर्म, संस्कृति और संस्कार जागरूक रखा है। इस गौरव को अपने वक्तव्य में समाहित कर आज अक्षरधाम मंदिर की एक विशिष्ट सभा में आलोक कुमार संस्थान के गुरु महंत स्वामीजी महाराज को राम मंदिर प्रतिष्ठा महोत्सव में पधारने के लिए आमंत्रित किया गया है।

महंत स्वामीजी महाराज की ओर से अक्षरधाम मंदिर के वरिष्ठ संत धर्मवत्सल स्वामी, प्रभारी मुनिवत्सल स्वामी ने आमंत्रण को श्रद्धा से स्वीकार कर लिया गया है। इस अवसर पर महामहोपाध्याय भद्रेशस्वामी को भी विशेष आमंत्रण दिया गया है। अक्षरधाम मंदिर और यहां का वातावरण सत्त्व से भी अधिक ज्यादा है। मुझे यहां सदा स्नेह और प्रेरणा मिल रही है। अयोध्या में भगवान रामजी की प्रतिष्ठा में आपका पधारना हमारे लिए आनंद का विषय बन गया है।

मुनिवत्सल स्वामी बोले सकल्प हुआ पूरा

image 736

यह भी पढ़े –मकर संक्रांति पर रवि योग बन रहा, करें भगवान सूर्य देव की आराधना, होगी अपार धन-वैभव की प्राप्ति

इस अवसर पर सभा को संबोधित करते हुए मुनिवत्सल स्वामी ने कहा कि 1968 में हमारे गुरुजी योगिजी महाराज ने संकल्प लिया था। कि अयोध्या में राम मंदिर जरुर बनेगा। उसके लिए उन्होंने निरंतर प्रार्थना की थी। आज वह संकल्प पूर्ण होने। यह पूरे भारत के लिए गौरव बात है। निमंत्रण के लिए पधारे सभी अतिथियों का अक्षरधाम मंदिर की ओर से स्वागत किया गया।

Pragya