इस पर्सनैलिटी के लोगों से दूरी बना के रखें लम्बी दूरी, वरना ज़िन्दगी में उठ सकती हैं कई मुश्किलें? जानें क्या है नार्सिसिस्टिक (Narcissistic) पर्सनैलिटी के बर्ताव

By Sachin

Published on:

कई लोग अपने आप को बेहतर दिखाने के लिए हमेशा प्रयासरत रहते हैं, और इसका परिणामस्वरूप वे खुद को सबसे महत्वपूर्ण मानते हैं। ऐसे व्यक्तियों के साथ रहना किसी भी समय चुनौतीपूर्ण हो सकता है, खासकर जब आपका पार्टनर इस तरह का हो।

यह भी पढ़ें – इस शादी के सीजन में चाहते हैं मुहांसों से छुटकारा? तो इन प्राकृतिक चीज़ों से करें अपने स्किन का देखभाल, मिलेगा चाँद जैसा निखार

आखिर क्या है नार्सिसिस्टिक पर्सनैलिटी डिसऑर्डर?

नार्सिसिस्टिक पर्सनैलिटी डिसऑर्डर एक मानसिक स्वास्थ्य स्थिति है जिसमें व्यक्ति खुद को अत्यंत आकर्षक और हमेशा सेंटर ऑफ अट्रैक्शन बनाए रखना चाहता है। इसका अर्थ है कि उन्हें अपनी तारीफें मिलनी चाहिए और वे हमेशा अपने आत्मसमर्थन की प्रशंसा करते रहते हैं।

image 144

क्या है नार्सिसिस्टिक पर्सनैलिटी के लोगों का बर्ताव -:

खुद की गुड़गान करना

नार्सिसिस्टिक व्यक्तियों का यह विश्वास होता है कि वे विशेष हैं और सबकुछ उन्हें मिलना चाहिए। उनकी इस आत्मा-प्रशंसा के बजाय दूसरों की भावनाओं को समझना चुनौतीपूर्ण हो सकता है।

तारीफों की भूख

नार्सिसिस्टों को हमेशा अपनी तारीफों की भूख रहती है। उन्हें लगता है कि उनकी हर कृति मेहनत के लायक है और वे इसे बड़े शौक से सुनना चाहते हैं।

दूसरों के प्रति नकारात्मक व्यवहार

नार्सिसिस्ट व्यक्तियों को अक्सर दूसरों की भावनाओं की अनदेखी होती है, क्योंकि उन्हें सिर्फ अपनी चीजों के लिए ही चिंता रहती है। इसका परिणाम हो सकता है कि वे अपने साथी के साथ ठीक से नहीं बरतते हैं, जो आपके रिश्ते के लिए हानिकारक हो सकता है।

image 145

यह भी पढ़ें – इस सर्दियों में कर रहे घूमने जाने का प्लान? तो भारत की यह जगहें बना देंगी आपको अनुभव को काफी ख़ास, जाने पूरी जानकारी

खुद को खास मानना

नार्सिसिस्ट व्यक्तियों का यह मानना होता है कि उन्हें खास व्यवस्था मिलनी चाहिए, और जब ऐसा नहीं होता, तो वे नाराज हो जाते हैं और अपनी मानसिक दशा आपके साथी और रिश्ते के लिए कठिनीयों का कारण बन सकती है।

Sachin