Homeकाम की बातकड़कनाथ मुर्गे को मात देती इस नस्ल की मुर्गी, हजारो रूपये दर्जन...

कड़कनाथ मुर्गे को मात देती इस नस्ल की मुर्गी, हजारो रूपये दर्जन बिकते है इसके अंडे, जाने कौनसी है ये नस्ल

कड़कनाथ मुर्गे को मात देती इस नस्ल की मुर्गी, हजारो रूपये दर्जन बिकते है इसके अंडे, जाने कौनसी है ये नस्ल। भारत में मुर्गी पालन का व्यवसाय बड़े पैमाने में किया जा रहा है। ऐसे में लोग मुर्गी पालन के जरिए एक अच्छी कमाई का स्रोत बन सकते है। भारत में अंडे की मांग भी काफी अधिक है, लोग शरीर में प्रोटीन की मात्रा को बढ़ाने के लिए अंडों का सेवन करते हैं। आइये जानते है किस नस्ल का पालन करके आप भी तगड़ी कमाई कर सकते है।

यह भी पढ़े- KTM का घमंड तोड़ेगा Pulsar का खतरनाक लुक, पॉवरफुल इंजन और अपग्रेड फीचर्स के साथ लुक देख लड़किया होगी मदहोश

यह खास नस्ल की मुर्गे देते है कड़कनाथ मुर्गे को मात

maxresdefault 2023 03 09T122956.721

आपकी जानकारी के लिए बता दे सरकार भी पोल्ट्री फार्मिंग के व्यवसाय को बढ़ावा दे रही है, इसके लिए कई सब्सिडी योजनाएं चलाई जा रही हैं। असील नस्ल की मुर्गियों का पालन मांस उत्पादन के लिए अधिक से अधिक किया जाता है। असील नस्ल की मुर्गियों की अंडा देने की क्षमता उत्तम नहीं होती है, यह साल में केवल 60 से 70 अंडे ही देती है। आइये जानते है असील मुर्गी के अंडे की कीमत के बारे में जानकारी।

हजारो रूपये दर्जन बिकते है इस नस्ल के मुर्गी के अंडे

जानकारी के लिए बताते है असील मुर्गी का पालन करके आप भी लाखो रुपये की कमाई कर सकते है। असील मुर्गी के अंडे की कीमत भी काफी अधिक होती है। बाजार में एक अंडे की कीमत 100 रुपए देखने को मिलती है। साथ ही इसके मीट की कीमत भी काफी अधिक देखने को मिल रही है। इसके अलावा इस मुर्गी के अंडे के सेवन से आंखों को काफी फायदेमंद साबित हो जाता है। असील मुर्गियां अन्य मुर्गियों की तुलना में काफी अलग हैं, जिस कारण से इन्हें पॉल्ट्री फॉर्म की बजाय बैकयार्ड फार्म में पाला जाता है।

image 335

कड़कनाथ मुर्गे को मात देती इस नस्ल की मुर्गी, हजारो रूपये दर्जन बिकते है इसके अंडे, जाने कौनसी है ये नस्ल

यह भी पढ़े- कॉमेडी सर्कस की ‘टूटे दांत वाली गंगूबाई’ दिखती है हद से ज्यादा सुन्दर, दिलकस अदाओ और फिटनेस में ऐश्वर्या रॉय को देती है मात

लड़ाकू प्रवर्ती के होते हैं असील मुर्गे

कड़कनाथ मुर्गी को मात देती है ये नस्ल की मुर्गी, कम लागत में कमा सकते अधिक मुनाफा, अंडो की कीमत उड़ा देंगी होश। असील मुर्गे लड़ाकू प्रवर्ती के होते हैं, यह कोई नई किस्म नहीं है और ना ही इसे विकसित किया गया है, बल्कि यह मुगलों के शासन से चले आ रहे हैं। आपने फिल्मों में या कहानियों में सुना ही होगा कि पुराने समय में नवाब बड़े-बड़े मुर्गों को लड़ाने का शौक रखा करते थे, जिसके लिए वह रंग बिरंगे मुर्गे असील मुर्गे ही पाला करते थे. मुर्गे लड़ाने के परंपरा अभी भी कई जगहों पर देखी जा सकती है।

RELATED ARTICLES

Most Popular