Wednesday, December 6, 2023
Homeखेती-किसानीकम समय में अश्वगंधा की खेती बना देंगी मालामाल, उत्पादन के साथ...

कम समय में अश्वगंधा की खेती बना देंगी मालामाल, उत्पादन के साथ मुनाफा भी होगा जबरदस्त, देखे पूरी जानकारी

कम समय में अश्वगंधा की खेती बना देंगी मालामाल, उत्पादन के साथ मुनाफा भी होगा जबरदस्त, देखे पूरी जानकारी, जैसा की यह बात तो आप सभी जानते ही है की भारत एक कृषि प्रधान देश है। किसान इसे और कई अन्य फसलों को उगाते हैं। देश के कई हिस्सों में किसान बड़े पैमाने पर अश्वगंधा की खेती कर रहे हैं। वही आपको बता दे अश्वगंधा एक बारहमासी पौधा है। इसके फल, बीज और छाल का उपयोग विभिन्न दवाएं बनाने के लिए किया जाता है जिससे इसकी डिमांड और भी बढ़ जाती है, तो चलिए आज हम आपको इसकी खेती से जुड़ी कुछ बातें बताएंगे।

यह भी पढ़े :- Punch का धंधा चौपट कर देंगी Maruti की धांसू गाडी, 40kmpl माइलेज के साथ दनादन फीचर्स, लक्ज़री लुक बनायेंगा दीवाना

image 341

अश्वगंधा की मार्केट में हो रही काफी डिमांड

इन दिनों बाजारो में अश्वगंधा की काफी डिमांड हो रही है। इसके साथ ही इस फसल की खासियत यह है कि इसका हर हिस्सा बाजार में बिकता है। यानी पत्तियों से लेकर जड़ तक सब कुछ बाजार में ऊंचे दाम पर बिकता है. दरअसल, हम बात कर रहे हैं अश्वगंधा की। अश्वगंधा एक ऐसी फसल है जिसे आप इम्युनिटी बूस्टर के रूप में जानते हैं। तो आइए आपको बताते हैं कि इसकी खेती कैसे की जाती है. इसकी मांग बाजार में हमेशा बनी रहती है. जिससे आप इसकी खेती से सालाना लाखों रुपये कमा सकते हैं।

यह भी पढ़े :- OnePlus का काम तमाम कर देंगा Samsung का शानदार 5G स्मार्टफोन, 108MP फोटू क्वालिटी और 6000mAh की बैटरी से सबको करेंगा घायल

अश्वगंधा की खेती करने का आसान तरीका

अश्वगंधा की खेती के लिए लाल मिट्टी और बलुई दोमट मिट्टी बहुत उपयुक्त होती है, बुआई के लिए प्रति हेक्टेयर दस से बारह किलोग्राम बीज की दर पर्याप्त होती है. सामान्यतः बीज 7 से 8 दिन में अंकुरित हो जाते हैं। इसे दो प्रकार से बोया जाता है। पहली विधि कतार विधि है। इसमें बीज से पौधे की दूरी 5 सेमी और लाइन से लाइन की दूरी 20 सेमी रखी जाती है. एक वर्ग मीटर में तीस से चालीस पौधे होते हैं। दूसरी है छिटकवाँ विधि- इस विधि से बुआई बेहतर होती है।

image 340

अश्वगंधा की खेती से कितना कमा सकते मुनाफा

अश्वगंधा की खेती से कमाई की बात की जाये तो अश्वगंधा की फसल पांच से छः महीने में पूरी तरह से तैयार हो जाती है. एक अनुमान के मुताबिक, प्रति हेक्टेयर जमीन पर अश्वगंधा की खेती करने में करीब दस हजार रुपये का खर्च आता है, लेकिन फसल का हर हिस्सा बेचने पर आपको 70 से 80 हजार रुपये की और बड़े पैमाने पर इसकी खेती से किसान भाई लाखो की कमाई कर सकते है।

RELATED ARTICLES

Most Popular