मटर की ये उन्नत किस्मे देंगी बंपर पैदावार, प्रति हेक्टेयर उत्पादन भी होगा 80 से 100 क्विंटल, देखे जानकारी

Jitendra
3 Min Read

मटर की ये उन्नत किस्मे देंगी बंपर पैदावार, प्रति हेक्टेयर उत्पादन भी होगा 80 से 100 क्विंटल, देखे जानकारी, आपको बतादे किसान सोयाबीन, मक्का और धान की कटाई के बाद गेहू, चना और मटर समेत तमाम फसलों की खेती करते है. मटर का उत्पादन देश में बड़े पैमाने पर किया जाता है वैसे तो इसकी मांग साल भर रहती है। जिससे किसान अधिक मुनाफा भी अच्छा खासा कमा लेते है। मटर की उन्नत किस्मो की जानकारी कम होने से किसान अधिक मुनाफा नहीं ले पाते है ऐसे में आज हम बात कर रहे मटर की उन्नत किस्मो के बारे में, जिससे अधिक मुनाफा लिया जा सकता है।

यह भी पढ़े :- XUV700 की चमक फीकी कर देंगी Toyota की प्रीमियम SUV, अमेजिंग फीचर्स के साथ शक्तिशाली इंजन, लक्ज़री लुक से मचायेंगी भौकाल

image 898

मटर की कुछ उन्नत किस्मो के बारे में

अर्ली बैजर मटर की किस्म : आपको बतादे मटर के इस किस्म के बारे में बात करे तो मटर इस किस्म की बुवाई के 65 से 70 दिन बाद इसकी फलियां तोड़ने के लिए तैयार हो जाती है। इसकी औसत पैदावार 80 से 100 क्विंटल प्रति हेक्टेयर हो सकती है।

यह भी पढ़े :- OnePlus का गुरुर तोडेंगा Samsung का शानदार स्मार्टफोन, 108MP कैमरा क्वालिटी और 6000mAh बैटरी के साथ देखे कीमत

काशी नन्दिनी (वी आर पी- 5) मटर की किस्म : मटर की इस उन्नत किस्म के बारे में बता दे की इस किस्म से पौधे बुआई के लगभग 35 दिन बाद 7 से 8 गांठ से फूल आने लगते हैं. इसकी फलियां हल्की मुड़ी होती हैं और उनमें 7 से 8 बीज होते हैं. पहली तुड़ाई बुआई के लगभग औसतन 55 दिन बाद की जा सकती है।

पूसा श्री मटर की किस्म : अगर आप अच्छा उत्पादन चाहते हो तो आप इस किस्म की खेती कर अधिक उत्पादन कर सकते है। मटर की इस किस्म की बात करे तो यह फसल बुवाई के 50 से 55 दिनों बाद फसल तुड़ाई के लिए तैयार हो जाती है. पैदावार की बात करे तो प्रति एकड़ 21 से 22 क्विंटल पैदावार होती है।

image 899

पंत मटर 155 मटर की किस्म : यह भी मटर की उन्नत किस्मो में से एक है और इस किस्म की फसल लगभग 60 दिनों में पककर तैयार हो जाती है, पैदावार की बात करे तो यह एकड़ 17 से 20 क्विंटल पैदावार होती है.

विवेक मटर 8 मटर की किस्म: मटर की इस किस्म की बात करे तो यह भी अच्छी पैदावार वाली किस्म है आपको बता दे की इसकी औसत पैदावार 70 से 75 क्विंटल प्रति हैक्टेयर पाई गई है.

Share This Article