spot_img
Monday, January 30, 2023
spot_img
Homeखेती-किसानीMKK Yojna 2022: इस योजना से म.प्र. किसानो को मिल रहे है...

MKK Yojna 2022: इस योजना से म.प्र. किसानो को मिल रहे है 10,000 रुपए सालाना,अभी ऐसे करे आवेदन

MKK Yojna 2022: इस योजना से म.प्र. किसानो को मिल रहे है 10,000 रुपए सालाना,अभी ऐसे करे आवेदन, मध्यप्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना 2022 शुरू की गयी है। इस योजना के तहत प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के किसानो को साल में 4,000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी जिससे की वे अपनी आर्थिक जरूरतों को पूरा कर सकेंगे साथ ही इसके माध्यम से वे अपने कृषि सम्बंधित जरूरतों को भी पूरा कर सकेंगे। सरकार द्वारा प्रधानमन्त्री किसान सम्मान निधि के सभी लाभार्थियों को इस योजना से जोड़ा गया है ऐसे में मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत प्रदेश के किसान सालाना कुल 10,000 रुपए की सहायता पाने के पात्र होंगे।

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojna–2022

आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको बताने वाले है की मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना क्या है ? इसका उद्देश्य, लाभ, पात्रता और आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या-क्या है ? साथ ही लेख के माध्यम से आपको Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojna–2022 में आवेदन करने के प्रोसेस से भी अवगत कराया जायेगा।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन

मध्यप्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के अन्नदाताओ को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए शुरू की गयी है। इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा प्रदेश के किसानो को वर्ष में 2 बार 2000-2000 रुपए यानी की कुल 4,000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी जिससे की कृषको को विभिन खर्चो को पूरा करने में सहायता मिलेगी। योजना में मध्य प्रदेश सरकार द्वारा प्रधानमन्त्री किसान सम्मान निधि के सभी लाभार्थियों को भी शामिल किया गया है जिससे की प्रदेश के 77 लाख से भी अधिक कृषको को लाभ मिलेगा। योजना के तहत किसानों को कृषि कार्यो के लिए आर्थिक सहायता मिलेगी जिससे की उन्हें कृषि कार्यो में आसानी होगी।

पीएम किसान निधि के लाभधारको को इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। सरकार द्वारा पीएम किसान निधि पोर्टल पर उपलब्ध डाटा के आधार पर लाभार्थियों की पहचान की जाएगी जिसके आधार पर कृषको को योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा। इस प्रकार से सभी पात्र किसान इस योजना के अंतर्गत वर्ष में कुल 10,000 रुपए की आर्थिक सहायता पा सकेंगे जो की सरकार द्वारा सभी लाभार्थियों के बैंक अकाउंट में डीबीटी के माध्यम से ट्रांसफर की जाएगी।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना 2022, Highlights

>

इस टेबल के माध्यम से आपको मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना 2022 से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बिन्दुओ की जानकारी प्रदान की गयी है।

योजना का नाममुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना 2022
योजना का उद्देश्यकिसानो को आर्थिक सहायता प्रदान करना
शुरू की गयीमुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा
लाभप्रदेश के कृषको को आर्थिक सहायता मिलेगी
सम्बंधित राज्यमध्यप्रदेश
वर्ष2022
लाभार्थीमध्यप्रदेश के किसान
सहायता की राशि4000 रुपए/साल (2 बराबर किस्तों में)
क्रियान्वयन विभागकृषि विभाग, मध्यप्रदेश
आधिकारिक वेबसाइटhttps://pmkisan.gov.in/
आवेदन का माध्यमऑनलाइन

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojna-2022, उद्देश्य

हमारे देश में अधिकांश कृषक छोटी जोतों के मालिक है और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से आते है। ऐसे में उन्हें कृषि सम्बंधित खर्चो जैसे-बीज, उर्वरक, कृषि उपकरणों और कृषि सम्बंधित अन्य खर्चो को पूरा करने के लिए आर्थिक सहायता की जरूरत पड़ती है। अकसर यह देखा गया है की ऋण के सुगम साधन उपलब्ध ना होने के कारण कृषक अनाधिकृत स्रोतों, महाजनो और जमींदारों से कर्ज लेते है। छोटी जोतो, प्राकृतिक आपदाओं और अन्य कारणों से उपज में कमी होने कृषक अपना ऋण चुकाने में असमर्थ रहते है और कर्ज के जाल में फंस जाते है। ऐसे में इन सभी समस्याओ को दूर करने और किसानो को वित् के आसान साधन मुहैया कराने के लिए मध्यप्रदेश सरकार द्वारा Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojna-2022 शुरू की गयी है।

इस योजना की शुरुआत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा 26 सितम्बर 2020 को की गयी थी जिसके तहत सरकार द्वारा सभी पात्र किसानो को हर वर्ष 4000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। सरकार द्वारा मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में प्रधानमन्त्री किसान सम्मान के लाभार्थियो को भी जोड़ा गया है ऐसे में किसानो को योजना के तहत साल में कुल 10,000 रुपए की आर्थिक सहायता प्राप्त होगी। योजना के माध्यम से कृषको को अपनी कृषि सम्बंधित जरूरतों को पूरा करने में सहायता मिलेगी।

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना 2022 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के माध्यम से कृषको को खेती के लिए वित्तीय सहायता प्राप्त होगी जिससे की वे अपनी उपज को बढ़ा सकेंगे साथ ही उनकी आय में भी वृद्धि होगी। केंद्र सरकार द्वारा किसानों को आय को दुगुना करने के लक्ष्य को भी इस योजना की सहायता से पूरा करने में मदद मिलेगी। सरकार द्वारा योजना के तहत सहायता की राशि सीधे किसानो के बैंक अकाउंट में डीबीटी के माध्यम से ट्रांसफर की जाएगी।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना, 77 लाख कृषको को मिलेगा लाभ

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत सरकार द्वारा प्रदेश के किसानो को प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (Direct Benefit Transfer) के माध्यम से आर्थिक सहायता प्रदान जाएगी। इस योजना के माध्यम से प्राप्त वित् की सहायता से प्रदेश के किसान खेती में निवेश कर सकेंगे जिससे की उनकी उपज में भी वृद्धि होगी। इससे किसानो की आय में भी वृद्धि होगी और देश का अन्नदाता एक बेहतर जीवन व्यतीत कर सकेंगे। साथ ही कृषि सम्बंधित अन्य जरूरतों को पूरा करने के लिए उन्हें अन्य स्रोतों से भी ऋण लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी जिससे की वे कर्ज के जाल से भी मुक्त होंगे। मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना की सबसे बड़ी विशेषता यह है की इस योजना के माध्यम से प्रदेश सरकार द्वारा प्रधानमन्त्री किसान सम्मान निधि के सभी लाभार्थियों को शामिल किया गया है ऐसे में प्रदेश के अधिकतम किसानो को इस योजना का लाभ मिल सकेगा।

इस योजना के तहत पीएम किसान सम्मान निधि के लाभधारको को पुन आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। सरकार द्वारा पीएम किसान पोर्टल पर उपलब्ध डाटा के आधार पर लाभार्थियों पहचान की जाएगी। चूँकि केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमन्त्री किसान सम्मान निधि के तहत किसानो को वर्ष में 6000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है वही मध्यप्रदेश सरकार द्वारा भी किसानो को मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत वर्ष में 4000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी ऐसे में प्रदेश के किसान वर्ष में कुल 10,000 रुपए की आर्थिक सहायता पाने के पात्र होंगे।

अगर सरल शब्दो में कहा जाए तो योजना के तहत सरकार द्वारा पीएम किसान योजना और मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना को मर्ज करके सभी पात्र किसानो को वर्ष में कुल 10,000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की प्रदान जाएगी। योजना के माध्यम से आर्थिक सहायता प्राप्त किसानो को कृषि कार्यो के लिए आसानी होगी साथ ही सरकार द्वारा उनकी वित्तीय आवश्यकतायें भी पूरी की जा सकेंगी।

पीएम किसान सम्मान निधि सुधार जाने यहाँ

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत सरकार द्वारा प्रदान की गयी आर्थिक सहायता

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा 26 सितम्बर 2020 को शुरू किया गया था। इसके तहत प्रदेश के किसानो को वर्ष में 4000 रुपए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। योजना की सहायता राशि 2 समान किस्तों में किसानों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाएगी। इस योजना के माध्यम से अब तक सरकार द्वारा प्रदान की गयी आर्थिक सहायता का विवरण इस प्रकार है।

  • मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा 03 दिसंबर 2020 को इस योजना की पहली क़िस्त किसानो के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की गयी थी। योजना के तहत प्रदेश के रायसेन, खांडवा, सागर, इंदौर और ग्वालियर आदि जिलों के 5,00,000 से भी अधिक किसानो के बैंक अकाउंट में 100 करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की गयी है। इस कार्यक्रम के दौरान मुख्यम्नत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा प्रदेश के किसानो से संवाद भी किया था जिसके तहत प्रत्येक जिले से 200 किसानो का चयन किया गया था। इस कार्यक्रम में सीएम शिवराज सिंह चौहान द्वारा किसानो को आर्थिक सहायता देने की बात भी कही गयी है।
  • मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत मध्यप्रदेश सरकार द्वारा 30 जनवरी 2021 को प्रदेश के 20 लाख से भी अधिक किसानो को योजना के तहत दूसरी क़िस्त प्रदान की गयी है। इसके माध्यम से सरकार द्वारा प्रदेश के 20 लाख से अधिक किसानो के बैंक अकाउंट में डीबीटी के माध्यम से 400 करोड़ रुपए की धनराशि ट्रांसफर की गयी है। इसके माध्यम से प्रदेश के सभी पात्र किसानो को लाभ मिला जिसके लिए सरकार द्वारा किसान कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया था। कार्यक्रम के माध्यम से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा सभी पात्र किसानो के साथ संवाद कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया था जिसके तहत सरकार द्वारा सभी किसानो की समस्याओ को हल करने का आश्वासन दिया गया है।
  • मध्यप्रदेश सरकार द्वारा योजना के तहत 27 फरवरी 2021 को दूसरी क़िस्त के बचे हुए 400 करोड़ रुपए की धनराशि पात्र किसानो के बैंक अकाउंट में डीबीटी के माध्यम से ट्रांसफर की गयी है। इसके तहत सरकार द्वारा प्रदेश के दूसरी क़िस्त के दौरान बचे हुये जिलों के किसानो को योजना की दूसरी क़िस्त का लाभ दिया गया। इस तरह सरकार द्वारा दूसरी क़िस्त के माध्यम से प्रदेश के किसानो को कुल 800 करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की गयी है।
  • प्रदेश सरकार द्वारा अधिक से अधिक किसानो को योजना का लाभ प्रदान करने के लिए आवेदन की प्रक्रिया को आसान बनाया गया है। अब तक प्रदेश सरकार द्वारा योजना के अंतर्गत विभिन किस्तों के रूप में प्रदेश के किसानो के बैंक अकाउंट में डेढ़ हजार करोड़ रुपए से अधिक की धनराशि भेजी जा चुकी है जिसके माध्यम से प्रदेश के 77 लाख से अधिक किसानो को लाभ प्रदान किया गया है। सरकार द्वारा लघु और सीमान्त किसानो को योजना के अंतर्गत प्रमुखता से शामिल किया गया है ताकि प्रदेश के अधिकतम किसानो को योजना का लाभ मिल सके।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना 2022-लेटेस्ट अपडेट

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत मध्यप्रदेश सरकार द्वारा 23 अक्टूबर 2021 में किसानो के बैंक अकाउंट में योजना के तहत 1540 करोड़ रुपए की धनराशि भेजी गयी है। इसके लिए सरकार द्वारा आयोजित कार्यक्रम के माध्यम से प्रदेश के 77 लाख किसानों के बैंक अकाउंट में 1540 करोड़ रुपए की धनराशि ट्रांसफर की गयी है। मिंटो हाल में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा किसानो के बैंक अकाउंट में योजना के तहत 2,000 रुपए की क़िस्त भेजी गयी है जिससे की प्रदेश के 77 लाख किसानो को लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के माध्यम से प्रदेश सरकार द्वारा किसानो के बैंक अकाउंट में 2 समान किस्तों में 4000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। प्रदेश के किसानो को केंद्र सरकार द्वारा पीएम किसान योजना के तहत 6,000 रुपए जबकि मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत सालाना 4,000 रुपए यानी की वर्ष में कुल 10,000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

ये है आवश्यक पात्रतायें

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में आवेदन करने के लिए सरकार द्वारा निम्न पात्रतायें निर्धारित की गयी है :-

  • मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में आवेदन करने के लिए मध्यप्रदेश के स्थायी निवासी ही पात्र है।
  • छोटी और लघु जोतो वाले किसान ही योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते है।
  • योजना में आवेदन करने के लिए किसान के पास स्वयं की कृषि भूमि होनी चाहिए।
  • सीमान्त और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से आने वाले कृषको को योजना के अंतर्गत प्राथमिकता प्रदान की जाएगी।
  • प्रधानमन्त्री किसान सम्मान निधि के सभी लाभार्थियों को योजना के अंतर्गत स्वतः ही रजिस्टर्ड कर दिया जायेगा। इसके लिए उन्हें सिर्फ एक बार अपने क्षेत्र के पटवारी से दस्तावेजों का भौतिक सत्यापन करवाना आवश्यक होगा।
  • आवेदन के लिए पात्र किसानो को सरकार द्वारा निर्धारित की गयी सभी शर्तो को पूरा करना होगा।

पीएम किसान योजना स्टेटस ऐसे देखें : PM Kisan Status ये है आसान तरीका

आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाणपत्र
  • पीएम किसान योजना का रजिस्ट्रेशन नंबर
  • बैंक अकाउंट की पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना, ऐसे करें आवेदन

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का लाभ लेने के लिए आवश्यक है की किसान प्रधानमन्त्री किसान सम्मान निधि के अंतर्गत रजिस्टर्ड हो। जो भी किसान पीएम किसान निधि के अंतर्गत रजिस्टर्ड होंगे उन्हें ही योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा। इसके लिए सरकार द्वारा पीएम किसान के आधिकारिक पोर्टल पर उपलब्ध डाटा का प्रयोग किया जायेगा।

पीएम किसान योजना में आवेदन करने के लिए इन स्टेपस को फॉलो करें –

  • सबसे पहले पीएम किसान की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जायें।
  • होमपेज पर आपको दायीं साइड में Farmer Corner का ऑप्शन दिखाई देगा। इस पर New Farmer Registration का विकल्प दिखाई देगा। इस पर क्लिक कर दे।
  • इसके बाद आपके सामने फार्मर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा। इसमें आप ग्रामीण या शहरी किसान का विकल्प चुनकर अन्य जानकारी दर्ज कर दे। इसके पश्चात Send OTP के ऑप्शन पर क्लिक कर दे।
  • अब आपके मोबाइल नंबर पर ओटीपी नंबर भेजा जायेगा। इसे ओटीपी बॉक्स में दर्ज कर दे। इसके पश्चात सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक कर दे। अब आपके सामने योजना का आवेदन फॉर्म खुल जायेगा।
  • आवेदन फॉर्म में मांगी गयी सभी जानकारियाँ दर्ज कर दे। सभी जरुरी दस्तावेजों को भी अपलोड कर दे। इसके पश्चात अन्य औपचारिकतायें पूरी करके आप आवेदन फॉर्म को जमा कर सकते है।
  • अंत में आवेदन सफलता पूर्वक पूरा होने के पश्चात आपको किसान पंजीकरण संख्या प्रदान की जाएगी। इसे भविष्य के लिए सुरक्षित रख ले।

हालांकि सभी किसानो को यह ध्यान रखना आवश्यक है की पीएम किसान योजना में आवेदन करने के पश्चात आपको एक बार अपने क्षेत्र के पटवारी को योजना सम्बंधित आवेदन पत्र को जमा करवाना होगा। इसके पश्चात पटवारी द्वारा आपके भौतिक दस्तावेजों का सत्यापन करने के पश्चात आपको योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा।

ये सुविधायें भी है उपलब्ध

सरकार द्वारा आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से किसानो को योजना सम्बंधित डैशबोर्ड देखने की सुविधा भी प्रदान की गयी है। इसके लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना डैशबोर्ड के ऑप्शन पर क्लिक कर दे। अब आप उपयुक्त विकल्प चुनकर योजना सम्बंधित विभिन जानकारी प्राप्त कर सकते है। आधिकारिक पोर्टल पर जिले, तहसील, तालुका और गाँव के आधार पर डैशबोर्ड पर उपलब्ध डाटा देखने की सुविधा प्रदान की गयी है।

इसके अतिरिक्त आधिकारिक पोर्टल की सहायता से किसान योजना सम्बंधित विभिन अपडेट्स की जानकारी भी प्राप्त कर सकते है। मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में आवेदन सम्बंधित विभिन जानकारी प्राप्त करने और आवेदक की स्थिति देखने के लिए मध्यप्रदेश सरकार द्वारा किसान एप्प (KISAN APP) भी जारी किया गया है। आधिकारिक पोर्टल की सहायता से किसान एप्प को डाउनलोड किया जा सकता है।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना सम्बंधित अकसर पूछे जाने वाले प्रश्न (प्रश्न)

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना क्या है ?

इस योजना को मध्यप्रदेश सरकार द्वारा शुरू किया गया है। योजना के तहत मध्यप्रदेश सरकार द्वारा किसानो को प्रतिवर्ष 4000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह सहायता 2 समान किस्तों में किसानो के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाएगी।

ये भी पढ़िए : Nano DAP Urea Liquid: किसानो इस नयी खाद का उपयोग कर…

इस योजना का क्या लाभ है ?

इस योजना के तहत किसानो को प्रति वर्ष 4000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी जिससे की सभी किसानो को लाभ होगा। योजना द्वारा प्राप्त धनराशि की सहायता से वे कृषि सम्बंधित जरूरतों के लिए वित् प्राप्त कर सकेंगे। साथ ही कृषि निवेश से उपज बढ़ने से किसानो को फायदा होगा।

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत कुल कितने रुपए की आर्थिक सहायता मिलेगी ?

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत सरकार द्वारा 4000 रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी। चूँकि इस योजना में सरकार द्वारा पीएम किसान योजना के सभी लाभार्थियों को शामिल किया गया है ऐसे में किसानो को पीएम किसान सम्मान निधि के तहत 6,000 रुपए जबकि मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत 4,000 रुपए यानी की वर्ष में कुल 10,000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

क्या मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का लाभ लेने के लिए किसानो को पीएम किसान योजना में रजिस्ट्रेशन करना आवश्यक है ?

हाँ। सरकार द्वारा सिर्फ पीएम किसान सम्मान निधि के लाभार्थियों को ही मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा। पीएम किसान सम्मान निधि योजना में आवेदन कर चुके किसानो को योजना में पुनः आवेदन करने आवश्यकता नहीं है। उन्हें सिर्फ एक बार अपने क्षेत्र के पटवारी के पास योजना सम्बंधित आवेदन पत्र देना होगा। इसके पश्चात आपके दस्तावेजों के सत्यापन के बाद आपको योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा।

योजना में आवेदन करने का प्रोसेस क्या है ?

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में आवेदन करने के लिए ऊपर दिया गया लेख पढ़े। इसमें बताये गये स्टेप्स को फॉलो करके आप योजना में आवेदन कर सकते है।

इस योजना के अंतर्गत कौन-कौन आवेदन कर सकता है ?

मध्यप्रदेश सरकार द्वारा इस योजना को प्रदेश के किसानो के हित को ध्यान में रखते हुये शुरू किया गया है। ऐसे में प्रदेश के स्थाई निवासी ही योजना में आवेदन करने के पात्र है। इसके अतिरिक्त उन्हें सरकार द्वारा निर्धारित की गयी अन्य शर्तो को भी पूरा करना होगा।

ये भी पढ़िए : PM Kisan Samrishi Kendra: किसानों को मिलेगा यहाँ खाद-बीज, कृषि मशीनरी…

>
RELATED ARTICLES

Most Popular