Saphala Ekadashi 2024: सोय हुए भाग्य को जगाने सफला एकादशी के दिन घर लाएँ ये चीजें, खुल जाएगी बंद पड़ी किस्मत

By Saurabh

Published on:

Saphala Ekadashi 2024: सफला एकादशी पर जगत के पालनहार भगवान विष्णु की विशेष पूजा-अर्चना की जाती है धार्मिक मान्यता है कि एकादशी का व्रत करने से सोया हुआ भाग्य भी चमक उठता है। साथ ही धन-धान्य और सुख-समृद्धि में अपार वृद्धि होती है।इस वर्ष 07 जनवरी को सफला एकादशी है।

यह भी पढ़े घर पर बेकार बैठने से अच्छा शुरू करें ये डिमांडिंग बिजनेस, हर महीने होगी जबरदस्त कमाई, जानिए पूरी जानकारी

Saphala Ekadashi 2024: सोय हुए भाग्य को जगाने सफला एकादशी के दिन घर लाएँ ये चीजें, खुल जाएगी बंद पड़ी किस्मत हर वर्ष पौष माह के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को सफला एकादशी मनाई जाती है।वैष्णव समाज के लोग एकादशी को खास त्योहार की तरह ही मानते है इस तिथि पर जगत के पालनहार भगवान विष्णु की विशेष पूजा-अर्चना की जाती है साथ ही एकादशी का व्रत भी रखा जाता है धार्मिक मान्यता है कि एकादशी का व्रत करने से सोया हुआ भाग्य भी चमक उठता है। साथ ही धन-धान्य और सुख-समृद्धि में अपार वृद्धि होती है। ज्योतिष शास्त्र में एकादशी तिथि पर विशेष उपाय करने का भी विधान है।चलिए जानते है..

image 229

सफला एकादशी के दिन घर ले आएं ये 4 चीजें मिलेगी सफलता

हंस
शास्त्रों अनुसार सफला एकादशी तिथि पर चांदी से निर्मित हंस घर लाने से अगर धन संबंधी परेशानी दूर होती है आप एकादशी तिथि पर किसी भी समय हंस ला सकते हैं। हंस को पूजा स्थल या तिजोरी में स्थापित कर सकते हैं। इस उपाय को करने से धन में धीरे-धीरे वृद्धि होने लगती है।

यह भी पढ़े Cough headaches: सर्दियों में अक्सर सर दर्द बना रहता है कही इसकी वजह ‘सर मे कफ जमना’ तो नहीं, जानिए

कलश
शास्त्रों अनुसार चिरकाल में समुद्र मंथन के समय अमृत कलश लेकर धन्वंतरि (विष्णु जी) देव प्रकट हुए थे इसलिए सफला एकादशी पर कलश का महत्व है अगर आप वास्तु दोष के चलते परेशान हैं तो सफला एकादशी तिथि पर चांदी से निर्मित कलश घर लाये ,कलश के घर पर रखने से वास्तु दोष दूर होता है। आप अपनी आर्थिक स्थिति के हिसाब से सफला एकादशी के दिन कलश ला सकते हैं।

image 228

दक्षिणावर्ती शंख
शास्त्रों अनुसार भगवान विष्णु को दक्षिणावर्ती शंख बहुत अधिक प्रिय है। ऐसा कहा जाता है कि दक्षिणावर्ती शंख से अभिषेक करने पर भगवान विष्णु शीघ्र प्रसन्न होते हैं। अतः सफला एकादशी तिथि पर दक्षिणावर्ती शंख घर लाये और भगवान विष्णु की पूजा अर्चना करे.

कछुआ
शास्त्रों में भगवान विष्णु के मत्स्य और कच्छप अवतार का वर्णन है।अतः एकादशी तिथि पर कछुआ या मछली ला कर इसे अपनी तिजोरी में रख दें। ऐसा करने से आय और सौभाग्य में धीरे-धीरे वृद्धि होने लगती है कोई बाध्य नहीं है आप अपनी इक्छा से अपनी बचत अनुसार चांदी से निर्मित कछुआ या मछली घर ला सकते हैं।

यह भी पढ़े पूजाघर में भूलकर भी न रखें यह 6 चीजें, वरना कुपित हो जाते है देवी-देवता, जानिए इन चीजों के बारे में

डिसक्लेमर=विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है,इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें।

Saurabh