spot_img
Tuesday, February 7, 2023
spot_img
Homeबिज़नेसSariya Cement Rate: सरिया सीमेंट की कम मांग होने की वजह से...

Sariya Cement Rate: सरिया सीमेंट की कम मांग होने की वजह से दामों में आई भारी गिरावट जाने क्या है रेट

Sariya Cement Rate: सरिया सीमेंट की कम मांग होने की वजह से दामों में आई भारी गिरावट जाने क्या है रेट विगत महीने मार्च-अप्रैल के दौरान सरिये का भाव रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया था. इसके बाद सरकार ने स्टील पर एक्सपोर्ट ड्यूटी (Export Duty On Steel) को बढ़ाने का फैसला लिया. इसकी वजह से घरेलू बाजार में स्टील के (Sariya Cement Rate)दाम भी तेजी से गिरे. सरिये के दाम में आयी कमी की मुख्य वजह भी यही है. दूसरी तरफ मानसून(Sariya Cement Rate) के कारण देश के कई हिस्सों में हो रही भारी बारिश के चलते निर्माण गतिविधियों में भी कमी (Sariya Cement Rate)आने का असर डिमांड पर हुआ था

Sariya Cement Rate

Sariya Cement Rate: सरिया सीमेंट की कम मांग होने की वजह(Sariya Cement Rate) से दामों में आई भारी गिरावट जाने क्या है रेट

सामग्रियों के दाम

जैसे-जैसे मानसून वापस लौटने लगा है, देश के विभिन्न(Sariya Cement Rate) हिस्सों में बारिश में भी कमी आने लगी है. इसके साथ साथ निर्माण गतिविधियों (Construction Activities) में तेजी आने लगी है. इससे पहले मानसून के चलते (Sariya Cement Rate)उत्पन्न हुए बारिश और बाढ़ जैसे हालात ने निर्माण गतिविधियों को एकदम ठप कर दिया था. हालांकि अब इस सेक्टर की गतिविधियों में सुधार आने लगा है, जिसका सीधा असर सीमेंट (Cement) और सरिया (Sariya) जैसी सामग्रियों के दाम पर हो रहा है. पिछले दो सप्ताह(Sariya Cement Rate) के दौरान सरिये के भाव कई शहरों में बढ़े हैं. हालांकि अभी भी यह 2-3 महीने पहले(Sariya Cement Rate) की तुलना में ठीक-ठाक किफायती मिल रहा है. अगर आपको भी घर बनवाना है तो अब देरी न करें, वर्ना सरिया-सीमेंट के महंगे होने से आपकी लागत भी बढ़ सकती है.

(Sariya Cement Rate): सरिया सीमेंट की कम मांग होने की वजह(Sariya Cement Rate) से दामों में आई भारी गिरावट जाने क्या है रेट

एक्सपोर्ट ड्यूटी बढ़ने का हैं असर

>

आपको बता दें कि विगत माह मार्च-अप्रैल के दौरान सरिये का भाव रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया था. इसके बाद सरकार ने स्टील पर एक्सपोर्ट ड्यूटी (Export Duty On Steel) बढ़ाने का फैसला लिया. इसकी वजह से (Sariya Cement Rate)घरेलू बाजार में स्टील के दाम तेजी से गिरे थे. सरिये के दाम में आयी कमी की मुख्य वजह भी यही है. दूसरी तरफ मानसून के कारण देश के कई हिस्सों में हो रही भारी बारिश के चलते निर्माण गतिविधियों में कमी (Sariya Cement Rate)आने का असर भी डिमांड पर हुआ. उसके बाद सरिये के भाव में काफी तेजी से गिरावट आयी थी, लेकिन अभी फिर से इनकी कीमतें बढ़ने लगी हैं. बीते 2 सप्ताह के दौरान कई शहरों(Sariya Cement Rate) में सरिया 1000 रुपये प्रति टन तक महंगा हुआ है. हालांकि यह अभी भी जुलाई महीने की तुलना में 6000 रुपये प्रति टन तक सस्ता मिल रहा है.

>
RELATED ARTICLES

Most Popular