spot_img
Tuesday, February 7, 2023
spot_img
Homeबिज़नेसशेयर मार्किटShare Market: Paytm के ख़राब प्रदर्शन के बाद क्या उछाल मारेगा शेयर,...

Share Market: Paytm के ख़राब प्रदर्शन के बाद क्या उछाल मारेगा शेयर, जानिए एक्सपर्ट की राय

Share Market: Paytm के ख़राब प्रदर्शन के बाद क्या उछाल मारेगा शेयर, जानिए एक्सपर्ट की राय ,भारत सरकार की पीएलआई योजना की वजह से कैपिटल एक्सपेंडिचर में उछाल होता हुआ दिखाई दे रहा है जिसका फायदा इंजीनियरिंग और कैपिटल गुड्स संबंधी कंपनियों को हो सकता है.

ये भी पढ़िए :15 रुपये के शेयर ने 1 लाख के निवेश को बना…

साल 2021 में पेटीएम (Paytm) की पैरंट कंपनी वन 97 कम्युनिकेशन लिमिटेड ने अपना आईपीओ लाया था. लिस्टिंग के बाद से पेटीएम के स्टॉक में जिस तरह से पिटाई हुई है. वह पूरे बाजार को पता है. सवाल यह है कि बुरे प्रदर्शन के बाद क्या पेटीएम वापसी कर पाएगी. कंपनी में अभी भी जो निवेशक रुके हुए हैं क्या उनके निवेश को बढ़िया रिटर्न में बदल सकती है. साथ ही पेटीएम को लेकर आगे क्या उम्मीद है. आइए जानते हैं मार्केट एक्सपर्ट नितिन रहेजा (Nitin Raheja) से जो कि जूलियस बेयर वेल्थ में एडवाइजर हैं.

फंडामेंटल्स कंपनी के स्टॉक

>

एक्सपर्ट रहेजा कहते हैं कि पेटीएम कंपनी पर फिलहाल सावधान रहने की जरूरत है. उनके अनुसार पेटीएम कंपनी के मैनेजमेंट को फिलहाल जो शॉर्ट टर्म में फैली हुई समस्याओं पर काम करना चाहिए. साथ ही इन समस्याओं को लॉन्ग टर्म की योजनाओं के साथ संतुलित करके आगे बढ़ना चाहिए. एक्सपर्ट रहेजा आगे कहते हैं कि मैनेजमेंट द्वारा लिया गया कॉरपोरेट एक्शन केवल शॉर्ट टर्म के लिए स्टॉक की कीमतों में कुछ हलचल करवा सकती है. वही फंडामेंटल्स कंपनी के स्टॉक को आगे बढ़ाते हैं.

रणनीति के हिसाब

हाल में ही एचसीएल टेक को लेकर चल रही है टिप्पणी का असर क्या दूसरी आईटी सेक्टर की कंपनियों पर पड़ने वाले प्रभाव पर एक्सपर्ट रहेजा कहते हैं कि यह कहना तो मुश्किल है इसका प्रभाव कितना अधिक पड़ेगा पर एक बात ध्यान रखने वाली यह है कि आईटी सेक्टर की सभी कंपनियां खुद को लंबे समय से विकसित करती आ रही है. और इस विकास के लिए उन्होंने अपनी खुद की रणनीति बनाई है. अर्थात इन कंपनियों के बीते तिमाही के नतीजे देखने से पता चलता है कि सभी कंपनी कि अपने अलग-अलग रिजल्ट है. जो कि रणनीति के हिसाब से आए हैं.

कैपिटल एक्सपेंडिचर स्पेस

एक्सपर्ट रहेजा के अनुसार कैपिटल एक्सपेंडिचर स्पेस फिलहाल बहुत अच्छा प्रदर्शन कर रहा है. एक्सपर्ट आगे कहते हैं कि देश के बड़े समूह जैसे कि अडानी और टाटा ने कई सारी परियोजनाओं में अपना अपना कैपिटल लगाने की घोषणा की है पर अभी तक इसे बैलेंस शीट या ऑर्डर में प्रभावित होते हुए नहीं देखा है. एक्सपर्ट रहेजा के अनुसार फिलहाल सार्वजनिक कैपिटल एक्सपेंडिचर ही इस कैपिटल गुड्स स्पेस में होते दिख रहे हैं. प्राइवेट कैपिटल एक्सपेंडिचर फिलहाल अधिक लागू होता हुआ दिखाई नहीं दें रहा है केवल परियोजना के घोषणाओं में.

एक्सपर्ट रहेजा को दिलचस्प बात यह लगती है कि मिड कैप वाली कंपनियों में भी कैपिटल एक्सपेंडिचर वाला मोड दिखाई दें रहा है. यह कंपनियां अपने कैपेसिटी यूटिलाइजेशन पर काम कर रही है. एक बार इस स्पेस में कई सारे बड़े आर्डर आने लगे तो एक अच्छा चक्र बन सकता है.

ये भी पढ़िए :Share Market: Zomato के शेयर में दिन प्रति दिन लौटी तेज़ी,…

एक्सपर्ट के अनुसार

एक्सपर्ट रहेजा कहते हैं कि भारत सरकार की विभिन्न उद्योगों के लिए पीएलआई योजना के वजह से कैपिटल एक्सपेंडिचर में उछाल देखा जा रहा है. जिस वजह से आने वाले समय में इस स्पेस में ऑर्डर बुक और विकास चक्र सबसे अधिक दिखाई दें सकते है. एक्सपर्ट के अनुसार इंजीनियरिंग के प्रोडक्ट बनाने वाली कंपनियों के बढ़ते हुए मूल्यांकन पर भी नजर रखने बनाए रखने को कहा है.

>
RELATED ARTICLES

Most Popular