spot_img
Wednesday, February 8, 2023
spot_img
Homeहेल्थSkin Care: जानिए किस विटामिन की कमी से आते है चहरे पर...

Skin Care: जानिए किस विटामिन की कमी से आते है चहरे पर दाग धब्बे और इन विटामिन की कमी को कैसे करे पूरी, जाने

Skin Care: जानिए किस विटामिन की कमी से आते है चहरे पर दाग धब्बे और इन विटामिन की कमी को कैसे करे पूरी, जाने, त्वचा को बाहरी तत्व जितना प्रभावित करते हैं उतना ही असर उसपर अंदरूनी तत्व भी डालते हैं. कुछ विटामिन की कमी (Vitamin Deficiency) भी स्किन के लिए बुरी साबित हो सकती है जिससे डार्क स्पॉट्स (Dark Spots) और झाईंयों की दिक्कत होने लगती है. कई लोगों को छोटे धब्बे भी अचानक से उभरते नजर आते हैं जिन्हें हटाना लगभग मुश्किल होता है. ऐसे में जरूरी है कि शरीर में जिन विटामिन की कमी हो रही है उन्हें समय रहते पूरा किया जाए जिससे दाग-धब्बे निकलना रुक जाएं. दाग धब्बो से कभी लोग कई जायदा परेशान रहे है पर वह यह नहीं जानते की चेहरे पर आये दाग धब्बे की बजह से आये और कैसे होंगे दूर तो आइये जानते है –

ये भी पढ़िए: Health Tips: सर्दियों में न खाये यह चीज वार्ना बिगड़ सकती…

जाने किस विटामिन की कमी से आते है दाग धब्बे और कैसे करे विटामिन की कमी को पूरी जिससे दाग धब्बे से मिले छुटकारा |

विटामिन बी12 की कमी से होने वाली दाग धब्बे और उपाय (Spots and remedies caused by deficiency of Vitamin B12)

हमारे शरीर में काफी ज्यादा विटामिन होते है और इन विटामिन में कमी आने पर शरीर में असर दिखने लागत है जैसे ही शरीर में विटामिन बी12 की कमी होने लगती है चेहरे पर झाईंया (Pigmentation) निकलना भी शुरू हो जाती है. इस विटामिन की कमी होने पर त्वचा पर खुद-ब-खुद दाग-धब्बे उभरने लगते हैं और चेहरे के साथ-साथ हाथों और पैरों को भी यह धब्बे घेर सकते हैं. डाइट में दूध, दही, चीज़ और हरी सब्जियां शामिल कर इस विटामिन की कमी को पूरा किया जा सकता है. जिससे चहरे के दाग धब्बे धीरे धीरे कम होते जाते है और चेहरा और भी सूंदर होता जाता है |

विटामिन सी की कमी के उपाय (remedies for vitamin c deficiency)

>

विटामिन सी को असोर्बिक एसिड भी कहते हैं जिसकी कमी से चेहरे पर दाग-धब्बे नजर आने लगते हैं. यह एक तरह का एंटी-ऑक्सीडेंट है जो कोलाजन के प्रोडक्शन को बेहतर करने में सहायक है विटामिन सी की कमी से स्कर्वी रोग का खतरा बढ़ जाता है. टीओआई में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक, जब शरीर में विटामिन सी कमी होती है तो स्कर्वी रोग होने की संभावना सबसे ज्यादा रहती है. इससे मसूड़ों से खून आना, मसूड़ों में सूजन होना, दांत गिरने लगना, थकान, कमजोरी, रैशेज आदि समस्याएं हो सकती हैं.इससे स्किन की कई दिक्कतें भी दूर होती है, विटामिन सी (Vitamin C) की कमी पूरी करने के लिए खानपान में आंवला, नींबू, संतरा, मौसंबी और अमरूद शामिल किया जा सकता है.

विटामिन डी की कमी के उपाय (remedies for vitamin d deficiency)

पिग्मेंटेशन और डार्क स्पॉट्स होने का एक कारण विटामिन डी (Vitamin D) की कमी भी है. इस विटामिन की कमी को पूरा करने के लिए पर्याप्त मात्रा में धूप लेना आवश्यक है. लेकिन त्वचा रोगों से बचने के लिए भी विटामिन डी बेहद जरूरी है. बॉडी में अगर विटामिन डी की कमी हो जाए तो त्वचा पर भी इसके लक्षण देखने को मिलते हैं. विटामिन डी के लिए आप सूरज की रोशनी जरूर लें. इसके साथ ही अपनी डाइट में आप अंडा, मशरूम, पनीर, दूध और मछली विटामिन डी के अच्छे सोर्स हैं

ये भी पढ़िए: बॉलीवुड एक्ट्रेस इलियाना डी’क्रूज जैसा जीरो फिगर चाहिए, तो ऐसे में…

मेलानिन के कारण (due to melanin)

यदि मेलानिन कम हो तो आँखों का रंग हरा या नीला, बालों का रंग सुनहरा और त्वचा का रंग श्वेत हो जाता है। मेलानिन सूरज की किरणों में मौजूद हानिकारक पराबैंगनी (अल्ट्रावाय्लट) से रक्षा करता है जो कोशिकाओं को नुकसान पहुँचाता है जिस से त्वचा में झुर्रियाँ पड़ने से लेकर कर्क रोग (कैन्सर) तक हो सकता है। मेलानिन एक प्रकार का पिग्मेंट है जिसकी जरूरत से ज्यादा मात्रा चेहरे पर पिग्मेंटेशन या धब्बों को कारण बन जाती है. इस पिग्मेंट को दूर करने में विटामिन ई (Vitamin E) कारगर साबित होता है. विटामिन ई टैबलेट या फिर विटामिन ई तेल तो चेहरे पर लगाया जा सकता है जिससे ये धब्बे हल्के होने लगें.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

>
RELATED ARTICLES

Most Popular