Tips For Stomach: सुबह पेट साफ न होने से परेशान, इस एक्सरसाइज से दूर करे पेट की सभी परेशानियां

By Saurabh

Published on:

Tips For Stomach: हर व्यक्ति चाहता है कि सुबह के वक्त उसका पेट अच्छे से साफ हो,पर ऐसा कई बार नहीं हो पता कारण आजकल खान-पान में गड़बड़ी और खराब लाइफस्‍टाइल नतीजन पेट से जुड़ी समस्‍याओं जैसे कब्‍ज, एसिडिटी और अपच,पर इस समस्या को आप नियमित रूप से कुछ आसान सी एक्सरसाइज कर दूर सकते है.

यह भी पढ़े Kitchen Tips: अब जले हुए दूध को फेंकने की नहीं जरुरत,करें इस तरह इस्तेमाल, जानिए

Tips For Stomach: सुबह पेट साफ न होने से परेशान, इस एक्सरसाइज से दूर करे पेट की सभी परेशानियां पेट साफ न होने का असली कारण कब्‍ज है और कब्‍ज का सबसे बड़ा कारण एक्टिविटी की कमी है।एक्‍सरसाइज करने के बहुत फायदे होते है यह वजन कम करने के साथ साथ और मसल्‍स को टोन करने के साथ ही, दिल को दुरुस्‍त रखती है और कब्‍ज दूर करती है।हम आपको ऐसे ही एक्‍सरसाइज के बारे मे बता रहे है जो पेट के आस-पास के हिस्‍से पर काम करती हैं और डाइजेशन को मजबूत बनाती हैं, जिससे कब्‍ज की समस्‍या को दूर करती है.इसके अलावा, एक्‍सरसाइज आपकी आंतों में मसल्‍स के नेचुरल संकुचन को उत्तेजित कर उसे तेज करती है। बेहतर संकुचन वाली आंतों की मसल्‍स मल को जल्दी से बाहर निकालती हैं।इन एक्‍सरसाइज को रेगुलर करने, सही मात्रा में पानी पीने और हेल्‍दी डाइट लेने से कब्ज को कंट्रोल करने और रोकने में मदद मिलती है।

Untitled 36

मलासन ट्विस्ट

मलासन योग पेट से जुड़ी समस्‍याओं के लिए अच्‍छा माना जाता है लेकिन मलासन में ट्विस्ट जोड़ने से डाइजेशन के लिए इस एकसरसाइज के फायदे दोगुने हो जाते है, ट्विस्टिंग पोज से डाइजेस्टिव सिस्‍टम अच्‍छा होता है, इसलिए यह कब्‍ज को दूर करने में मदद करता है

यह भी पढ़े Kitchen Tips: अब जले हुए दूध को फेंकने की नहीं जरुरत,करें इस तरह इस्तेमाल, जानिए

मलासन ट्विस्ट की विधि
मलासन विधि करने के लिए सबसे पहले घुटनों को मोड़कर मल त्‍याग करने वाली मुद्रा मे बैठना है इसके बाद अपने हाथों को दोनों घुटनों पर रखना है फिर पहले दाएं घुटने को हाथ की मदद से आगे करके जमीन से टच करना है फिर बाएं घुटने को हा‍थ की मदद से जमीन टच करना है इस आसन को दोनों पैरों से कम से कम4 -5 बार दोहराना है.

image 412

मलासन ट्विस्ट के फायदे
मलासन विधि से शरीर में विभिन्‍न अंगों में ब्‍लड सर्कुलेशन अच्‍छी तरह से होता है,कब्‍ज की समस्‍या से छुटकारा मिलता है पेट नसों और मसल्‍स में स्‍ट्रेच लाता है साथ एनर्जी भी बूस्ट होती है साथ ही पैरों, हिप्‍स और जांघों की टोनिंग होती है।साइटिका के दर्द से राहत मिलती है,सांसों से जुड़ी समस्‍याएं ठीक होती हैं।

क्रो वॉक

यह भी पढ़े कोल्हू से तेल निकालने चाचा ने भिड़ाया गजब तिकड़म, अतरंगी आईडिया देख बड़े-बड़े होशियार हुए फैन, देखे

क्रो वॉक डाइजेस्टिव सिस्‍टम को मजबूत करता है पेट के निचले हिस्‍से में ब्‍लड फ्लो को बढ़ाकर कब्‍ज की समस्‍या को दूर करता है इसमें आपको मलासन में बैठकर आगे-पीछे जाना होता है.

image 413

क्रो वॉक की विधि
क्रो वॉक की विधि को करने के लिए घुटनों को मोड़ है अब पैरों के बल मलासन मुद्रा में बैठ जाना है इस पोजिशन में हिप्‍स को थोड़ा ऊपर करके रखना है अब अपने हाथों को दोनों घुटनों में रखकर इसके बाद पैरों के बल चलना है पहले दाएं पैर और फिर बाएं पैर से इस एक्‍सरसाइज को करना है और कम से कम4 -5 बार इस एक्सरसाइज को दोहराना है.

क्रो वॉक के फायदे
इस एक्सरसाइज से वजन तेजी से कम होता है साथ ही पेट की चर्बी कम होती है सूजन कम होती है और शरीर के निचले हिस्‍से में ब्‍लड फ्लो बेहतर होता है एनर्जी भी मिलती है।
साथ ही जांघों और हिप्‍स की चर्बी कम होती है।

डिस्क्लेमर = हमरा उदेश्य आप तक जानकारी पहुँचाना है,एक्सपर्ट की देख रेख मे ही एक्सरसाइज करे.

Saurabh